शमशान के लिए ना रास्ते की व्यवस्था ना पानी की, चुनावों में व्यस्त सरकार जनता बेहाल… आखिर किसकी है ये ज़िम्मेदारी?



रेनू डोगरा / बनखंडी

अब ज़िन्दगी के आखिरी सफर पर जाना भी सहज नहीं रह गया है जनाब जी हां ऐसा इसलिए क्यूंकि आपको एक ऐसी खबर से रूबरू करवाने जा रहे हैं जो विकास के तमाम बड़े बड़े दावों को खोखला साबित करती नजर आ रही है दरअसल मामला देहरा विधान सभा क्षेत्र से जुड़ा हुआ है

देहरा क्षेत्र की कल्लर और शेर लुहारा पंचायतों से यहां मरना भी गुनाह हो गया है ऐसा इसलिए कहना पड़ रहा है क्योंकि इन दोनो पंचायतों के करीब 70 परिवार घरों से दो किलोमीटर दूर जंगल में खुले में मृतकों का दाह संस्कार करने को मजबूर हैं बात यहीं खत्म नहीं हो जाती संस्कार तो वहीं होगा जहां इनके पूर्वज करते आए हैं लेकिन समस्या यह है कि न तो यहां शमशान घाट है और न ही कोई पानी की व्यवस्था है मृतक प्राणी का संस्कार करने के बाद अगर मृतक प्राणी के फूल या अस्तु एकत्रित करने हों तो जहां संस्कार किया होता है उस आग को पानी से बुझा कर मृतक प्राणी के अस्तु एकत्रित करने होते हैं जिसके लिए पानी की भी आवश्यकता होती है यहां पानी उपलब्ध न होने के चलते ग्रामीण बीस पच्चीस बाल्टी पानी दो किलोमीटर दूर घर से सर पर उठा कर लाकर अस्तु एकत्रित करने को मजबूर हैं । क्या जल जीवन मिशन यहां नही पहुंच सकता क्या एक शमशान घाट का निर्माण यहां नही किया जा सकता ताकि लोगों को मृतक प्राणी के संस्कार के दौरान समस्याओं से दो चार न होना पड़े । स्थानीय लोगों ने सरकार व शासन प्रशासन से मांग की है क़ि यहां शमशान घाट के निर्माण के साथ साथ पानी की भी व्यवस्था की जाए ।

हमने जलशक्ति विभाग से भी आग्रह किया था की यहां एक नल का कनेक्शन लगाया जाए ताकि लोगों को दिक्कतों का सामना न करना पड़े लेकिन अभी तक कोई भी सकारात्मक कदम विभाग द्वारा नहीं उठाया गया है । रास्ते की समस्या बारे भी वन विभाग के कर्मचारियों को अवगत करवाया गया है । दोनो विभाग यहां पानी और रास्ते की समस्या को हल करवाएं । पंचायत का जो भी सहयोग चाहिए होगा वो हम करेंगे । यहां मोक्ष धाम और पानी व्यवस्था बेहद जरूरी है – *सुरिंदर प्राशर प्रधान ग्राम पंचायत कल्लर*।

सथनीय लोगों नरेंद्र कुमार, मगहर सिंह, विजय कुमार बलवान सिंह, रिंकू, किशोरी लाल, आशु, अभिषेक, शुभम, राजू, अंशु, विज्जू, काकू, वीर सिंह व अन्य गांववासियों ने मांग की है सरकार से की गांवों की इस समस्या को प्राथमिकता के तौर पर हल किया जाए ।

ये बिलकुल सही है यहां लोगों को इस तरह की परेशानी का सामना करना पड़ रहा है जल शक्ति विभाग और वन विभाग से आग्रह है क़ि यहां पानी और रास्ते की व्यवस्था की जाए । पंचायत भी सहयोग करेगी । लोगों की इस समस्या का प्राथमिकता के तौर पर हल होना चाहिए- *सपना देवी प्रधान ग्राम पंचायत शेललुहारा*

श्मशान घाट पर हमारी पानी की कोई व्यवस्था नहीं होती है यह अगर डिपोजिट वर्क पंचायत या डी.सी दें तो ऐसा कर सकते हैं वाकी वहां क्या स्थिति है इस बारे मुझे कोई जानकारी नहीं है। – *तिलक राज पाठक, एक्सीएन जल शक्ति विभाग मण्डल देहरा””*

मेरे ध्यान में ऐसा कोई मामला नहीं है आपके माध्यम से मुझे यह जानकारी मिली है अगर कोई ऐसी समस्या है लोगों की तो एक बार वे हमसे आकर मिले । अगर उस जगह से पानी की कोई पाइप जा रही है तो हम जल शक्ति विभाग से आग्रह करके इनकी पानी की समस्या का समाधान कर देंगे। धनवीर ठाकुर, एस.डी.एम देहरा

Leave a Reply

Your email address will not be published.